असम में हिंसा के बाद सेवा भारती सेवा कार्य में सक्रिय

​गुवाहाटी. एनडीएफबी (एस) उग्रवादियों के हमले के बाद करीब 2. 9 लाख लोग असम के चार जिलों में राहत शिविरों में रह रहे हैं. सरकारी सूचनाओं के अनुसार लगभग 2. 86 लाख लोग कोकराझाड़, सोनितपुर, चिरांग और उदलगुरी जिलों में 139 राहत शिविरों में रह रहे हैं. सेवा भारती के कार्यकर्ता इन शिविरों में आवश्यक वस्तुओं का वितरण कर रहे हैं.

कोकराझाड़ में 92 राहत शिविर खोले गये हैं और 2. 35 लाख लोग इन शिविरों में शरण ले रहे हैं. चिरांग में करीब 35,000 लोग 26 शिविरों में रह रहे हैं. अधिकारियों ने सोनितपुर जिले में 12 राहत शिविर खोले हैं और 12000 लोग इन स्थानों पर इस वक्त रह रहे हैं. उदलगुरी जिले में नौ शिविर हैं जहां करीब 5,000 लोगों ने शरण ले रखी है.

Seva-Bharati-1

ज्ञातव्य है कि 23 दिसंबर की शाम से एनडीएफबी (एस) उग्रवादियों के सिलसिलेवार हमले, जवाबी हिंसा और पुलिस गोलीबारी में कुल 81 लोग मारे गये हैं जिनमें 26 महिलायें और 18 शिशु भी शामिल हैं. अब तक 364 घर जलाये जा चुके हैं.

सेवा भारती, पूर्वांचल हाल की असम हिंसा के फलस्वरूप अनाथ हुए बच्चों के पुनर्वास की योजना बना रहा है.  सेवा भारती, पूर्वांचल के द्वारा राहत शिविरों में चिवड़ा, गुड़, तिरपाल, कंबल, चावल, दाल, बेबीफूड, कपड़े आदि का वितरण किया गया. चिकित्सा शिविर लगाकर एलोपैथी और होमियोपैथी की दवाइयाँ बांटीं गईं.

Seva-Bharati-2

सेवा भारती पूर्वांचल आने वाले दिनों में अनाथ बच्चों (लड़के तथा लड़कियों) के लिये पुनर्वास की व्यवस्था करना तथा जरूरतमंदों को कपड़े, कंबल, तिरपाल, बर्तन आदि की व्यवस्था करने की योजना बना रहा है.

इस कार्य हेतु सेवाभावी बन्धु / भगिनी निम्नलिखित पते पर सम्पर्क कर अपना सहयोग दे सकते हैं –

सेवा भारती पूर्वांचल

माधव स्मृति

साउथ बाई लेन 1, मकान नम्बर-9

लाजपत नगर, गुवाहाटी

फोन- 0361-2526160,

मोबाइल- 09401383770

09435591430

सुरेन्द्र तालखेड़कर

प्रान्त सेवा प्रमुख, उत्तर असम

दूरभाष  — 09435519430

Email-tsurendra37@gmail.com

Seva-Bharati-3

Seva-Bharati-5

Seva-Bharati-Relief-Distribution-Assam

Periodicals