“ऑपरेशन पायथन” / भारतीय नौसेना द्वारा करांची पर हमला – 8 दिसंबर, 1971

भारत पाकिस्तान युद्ध -8 और 9 दिसंबर की रात को भारतीय नौसेना ने “ऑपरेशन पायथन” छेड़ दिया। नौसेना ने रॉकेट लॉंचर बोट की मदद से कराची की सड़कों को नुकसान पहुंचाया, जिससे अतिरिक्त सहायता मिलना बंद हो गई। नौसेना ने कराची हार्बर पर खड़े 3 कमर्शियल जहाजों को भी डुबा दिया।  भारतीय नौसेना ने करांची में भारी तबाही मचाई। इस दौरान एक भी भारतीय जहाज को कोई नुकसान नहीं पहुंचा था। इसमें 3 मिसाइल बोट्स आईएनएस निपट, आईएनएस निर्घट और आईएनएस वीर का इस्तेमाल हुआ।

पूर्वी भाग में वाइस एडमिरल कृष्णन के नेतृत्व में नौसेना ने बंगाल की खाड़ी में मोर्चा संभाल कर पूर्वी पाकिस्तान को पश्चिमी भाग से पूरी तरह अलग-थलग कर दिया। 4 दिसंबर के बाद आईएनएस विक्रांत ने पाकिस्तान के कई तटीय शहरों पर हमला बोला। पाकिस्तान ने इसके जवाब में पीएनएस गाजी को भेजा लेकिन इसे विशाखापट्टनम के पास नौसेना ने डुबा दिया।

Periodicals