घर वापसी हुई युवती के साथ विवाह करने वाले युवक को सम्मानीत किया जायेगा- संतो की घोषणा

विश्व हिन्दू परिषद की स्थापना के 50वें  सुवर्ण जयंती वर्ष के अवसर पर कर्णावती, गुजरात के अद्वैत आश्रम के पास आयोजित एक कार्यक्रम में बड़ी संख्या में उपस्थित संतो ने घोषणा करते हुए कहाँ कि जो युवक घर वापसी हुई युवती के साथ विवाह करेगा उस युवक को को सम्मानीत किया जायेगा। विश्व हिन्दू परिषद द्वारा देश भर में सुवर्ण जयंती के अवसर पर 600 कार्यक्रमों को आयोजन किया गया है. इस अवसर पर बोलते हुए डॉ प्रविण भाई तोगड़िया (अ. रा. का. अध्यक्ष, वि. हि.प.) ने कहाँ कि यदि धर्मान्तरण नहीं होता तो आज भारत की जनसँख्या  700 करोड़  होती जो आज 100 करोड़  है, यदि हिन्दुओ का ध्यान नहीं रखा जायेगा तो यह संख्या घटकर मात्र 10 करोड़ रह जाएंगी। उन्होंने कहाँ यदि प्रत्येक हिन्दू एक मुट्ठी अनाज दे तो जिन 10 लाख हिन्दुओ को रोज भूखे सोना पड़ता हैं. उन्हें भूखे नहीं सोना पड़ेगा। यदि हरेक हिन्दू 10 रुपए दे तो कोई भी हिन्दू शिक्षण से वंचित नहीं रहेंगा। विश्व हिन्दू परिषद द्वारा प्राइवेट हॉस्पिटल में मुफ्त इलाज हो सके इसके लिए हेल्प लाइन नंबर की घोषणा की  गई. इस हेल्प लाइन के साथ भारत भर से 50 हजार डॉक्टर्स को जोड़ा गया हैं. ये डॉक्टर्स गरीबो को मुफ्त में इलाज करेंगे। इस अवसर पर प. पू. स्वामी विदितात्मनंद सरश्वतीजी महाराज (अध्यात्म विद्यामंदिर ),  प. पू. श्री नौतम स्वामी जी ( सदस्य केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल ),  प. पू. पुरषोत्तमचरण शास्त्रीजी (झुंडाल गुरुकुल ) सहित अनेक संत उपिस्थत रहे.

2

3

4

Periodicals