जीवन में नैतिक मूल्य जरूरी – श्री मुरलीधर जी (प्रांत प्रचारक,जोधपुर)

जोधपुर, 22 मार्च (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ जोधपुर महानगर का वर्ष प्रतिपदा उत्सव स्थानीय उम्मेद स्टेडियम में मनाया गया.

प्रान्त प्रचारक मुरलीधर जी कहा कि हिन्दू नववर्ष भारतीय काल गणना पर आधारित है और यह वैज्ञानिक काल गणना है. प्रकृति के साथ इसका पूर्ण समन्वय है. भारतीय ज्योतिष विद्या भी इसी काल गणना के आधार पर चलती है. भारतीय नवसंवत्सर से कई प्रसंग जुड़े है – भगवन राम राज्याभिषेक, दयानंद सरस्वती द्वारा आर्य समाज की स्थापना, संत झूलेलाल जयंती के साथ ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना करने वाले डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार का जन्म दिन भी नवसंवत्सर के साथ जुड़ा है.

प्रांत प्रचारक मुरलीधर ने स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए कहा कि जीवन में नैतिक मूल्य जरूरी है. यह भारतीय संस्कृति की पहचान हैं. उन्होंने कहा कि संस्कृति के प्रचार-प्रसार की भी जरूरत है. इसके लिए पथ संचलन जैसे कार्यक्रम जरूरी है.

बाड़मेर. भारतीय नव वर्ष के उपलक्ष्य में रविवार को सधे कदमों से गुणवत्ता पथ संचलन निकाला. सुबह 11 बजे जिले के प्रशिक्षित स्वयंसेवकों ने पूर्ण गणवेश में नगर के प्रमुख मार्गों से संचलन निकाला. संचलन में घोष वाहिनी एवं ध्वज वाहिनी भी शामिल रही.मुरलीधर जी ने इस मौके पर अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा की ओर से पारित “प्राथमिक शिक्षा मातृ भाषा में” की चर्चा करते हुए कहा कि केंद्र व राज्य मातृभाषा सम्बन्धी नीति का पुनरावलोकन करें. इसे दैनिक जीवन में अपनाएं और समाज को भी इससे जोड़ें. उन्होंने कहा कि संघ योग का समर्थन करता है. योग दिवस पर संघ की ओर से कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे , जिसकी रूपरेखा शीघ्र तैयार की जाएगी. प्रांत संघचालक ललित शर्मा, विभाग संघ चालक शांतिलाल चौपड़ा, विभाग प्रचारक डॉ. धर्मेन्द्र सिंह, महानगर संघचालक खूबचंद खत्री सहित अन्य उपस्थित थे.

पथ संचलन सुबह 11 बजे कदम से कदम मिलाते हुए हाई स्कूल के पास से रवाना होकर महिला महाविद्यालय, विश्वकर्मा सर्कल, पांच बत्ती चौराहा, तनसिंह सर्कल, सरदारपुरा संघ स्थान, सिटी कोतवाली, स्टेशन रोड, अहिंसा सर्कल, माल गोदाम रोड, गल्र्स स्कूल, तेलियों का मोहल्ला, राम द्वारा, हनुमान मंदिर, गांधी चौक से होता हुआ आदर्श विद्या मंदिर, जोशियों का निचला वास पहुंच समाप्त हुआ. भारत माता की जय और जय श्री राम जैसे देशभक्ति उद्घोषों से स्वयंसेवकों का उत्साहवर्धन किया गया. संचलन में ‘मातृभूमि गान से गूंजता रहे गगन’ का सामूहिक गान आकर्षण का केंद्र रहा.

जैसलमेर. नवसंवत्सर के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों का गुणवत्ता पथ संचलन पहली बार संपन्न हुआ. पूर्ण गणवेश में नियमित शाखा जाने वाले संघ के स्वयंसेवक सधे कदमों से ताल मिलाकर संचलन करते निकले तो नगर के मुख्य बाजारों में लोग उनके अनुशासित कदमों को एकाग्रचित्त होकर निहारने लगे. दुर्ग शाखा से शुरू हुआ गुणवत्ता पथ संचलन गोपा चौक से होते हुए हनुमान चौराहा पर संपन्न हुआ

1

2

3

.

Periodicals