pune-1

परिवार प्रबोधन वर्तमान समय की आवश्यकता है – डॉ. मोहन भागवत जी

नासिक (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी नासिक प्रवास के दौरान गोले कॉलोनी स्थित राष्ट्र सेविका समिति के कार्यालय में सेविका समिति की बहनों से मिले. बहनों ने उत्साह के साथ सरसंघचालक जी का स्वागत किया.

सरसंघचालक मोहन भागवत जी ने कहा कि मातृ शक्ति की प्रतिष्ठा कायम रखते हुए परिवार प्रबोधन वर्तमान समय की आवश्यकता है. जगत – जननी, प्रकृति, पुरुष, यह प्राकृतिक रचना है. हमारी संस्कृति में सभी के समान होने की भावना है. देश में विदेशी आक्रमणों के कारण समानता की भावना नष्ट हो गई. वर्तमान समय में परिवार संस्था की रक्षा के लिए परिवार का प्रबोधन करने की आवश्यकता है.

उन्होंने संस्था में अष्टभुजा देवी का दर्शन किया. सदन में लगाई प्रदर्शनी देखी. संस्था की वरिष्ठ सदस्य भानुताई गाइधानी ने संस्था की ओर से शॉल, श्रीफल, गुलदस्ता और रानी लक्ष्मीबाई की प्रतिमा भेंट देकर उनका सत्कार किया.

प्रारंभ में संस्था का परिचय संस्था की सदस्य शोभा गोसावी द्वारा कराया गया. गीता कुलकर्णी ने नासिक जिले में राष्ट्र सेविका समिति की शाखाओं के बारे में जानकारी दी. समिति की जिला कार्यवाहिका गीता कुलकर्णी ने नासिक जिले में काम के बारे में जानकारी दी. विद्याताई चिपलूनकर, डॉ. शुभांगीताई कुलकर्णी, मंगलाताई सौंदाणकर सहित राष्ट्र सेविका समिति की सेविकाएं, प्रतिष्ठान की कार्यकारिणी उपस्थित थे.

pune-2

Periodicals