हिन्दू समाज को वैश्विक मंच प्रदान करने हेतु विश्व हिन्दू महासम्मेलन में विचार मंथन

नई दिल्ली. विश्व हिन्दू महासम्मेलन अशोक होटल के विभिन्न सभागारों में 22 नवम्बर को 5 सम्मेलन अलग-अलग विषयों पर आयोजित हुए. तीन दिन चलने वाले इन कार्यक्रमों में दूसरे दिन विश्व हिन्दू आर्थिक मंच के सम्मेलन में विश्व स्तर पर हिन्दू अर्थव्यवस्था एकजुट करने के विषय पर युनाइटेड किंगडम के उद्योगपति तथा सम्मेलन के अध्यक्ष श्री नतपुरी ने हिन्दू उद्योगपतियों को संबोधित किया, उनके साथ, लंदन चैम्बर आफ कामर्स एण्ड इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष श्री सुभाश ठक्कर बताया कि हिन्दू द्वारा जो सारे विश्व में व्यापार है उसको मजबूत करना चाहिये जिससे हम हिन्दुओं आर्थिक स्थिति सुदृढ़ हो सके. यूएसआईएनपीएसी यूएसए के अध्यक्ष श्री संजय पुरी ने हिन्दुओं के व्यापार में व्यापारिक इन्फोमेशन का आदान प्रदान कैसे हो इसकी जानकारी दी. ऑप्शन टाउन यूएसए के संस्थापक एवं अध्यक्ष श्री सचिन गोयल ने कहा कि टैक्नोलोजी के द्वारा कीमतों को किस ढंग से घटाया जा सकता है. इसी प्रकार अनेक देशों से जैसे सूरीनाम, गुयाना, साउथ अफ्रीका आदि देशों के प्रतिनिधियों ने भी अपनी बातें रखीं.

1

हिन्दू एजूकेशन सम्मेलन में  उच्च शिक्षा संस्थानों में  पाठ्यक्रम नवीनीकरण के  विषय पर बोलते हए सम्मेलन  के अध्यक्ष एवं हिन्दी  विश्वविद्यालय वर्धा के चांसलर  श्री कपिल कपूर ने कहा कि  हम किस प्रकार हिन्दू मुल्यों  के आधार पर शिक्षा का  नीवनीकरण कर सकते हैं. इस सत्र में एनआईएमएस  जयपुर के चांसलर प्रोफेसर बलबीर तोमर, पूर्ण विद्या फांउडेशन कोयम्बटूर से स्वामिनी परमानन्दा, जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय से प्रोफेसर रजनीश मिश्रा, जीवा इंस्टीट्यूट फरीदाबाद के सह संस्थापक श्री स्टीफन रूडोल्फ ने भी अपने अपने विषय पर विचार रखे.

2

नेटवर्क से गुणवत्ता और  दक्षता बढ़ाने के विषय पर  अगले सत्र में अंतर्राष्ट्रीय  एस्ट्रोनौटिक्स सोसायटी के  चेयरमैन और अध्यक्ष तथा  इसरो के पूर्व अध्यक्ष श्री जी  माधवन नायर ने अपने विचार  रखे.

3

हिन्दू एजुकेशनल कांफ्रेंस के  सत्र में डॉक्टर कृष्ण गोपाल  जी की अध्यक्षता में देश  विदेश  के प्रमुख शिक्षाविदों ने  हिन्दू  शिक्षा पद्धति पर अपने  विचार  रखे. हिन्दू मीडिया  काँफ्रेंस के एक अन्य सम्मेलन  में श्री सुशील पंडित जी ने  सोशल मीडिया पर अपने  विचार रखे.

मीडिया में व्यवसाय और सहयोग से अवसरों को बढ़ाने पर मीडिया इंस्टीट्यूट भारत के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री अमिताभ दत्ता ने मीडिया उद्योग से जुड़े व्यवसायियों को संबोधित किया. इस सत्र में तमिल पत्र दिनामलार के एसोसियेट संपादक श्री आर.आर गोपालजी ने प्रिंट मीडिया में वित्त से जुड़ी समस्याओं पर प्रकाश डाला. श्रीकांत खांडेकर ने मीडिया बिजनेस के भविश्य पर अपने विचार रखे. लोकमत ग्रुप न्यूजपेपर के श्री ज्वलंत स्वरूप ने मीडिया के वैश्विक उपभोक्ताओं के विषय पर चर्चा की.

4

सामाजिक और राजनीतिक नेतृत्व में महिलाओं की सहभागिता विषय पर राष्ट्र सेविका समिति की प्रमुख संचालिका आदरणीय वी. शांताआका  ने सत्र की अध्यक्षता करते हुए महिलाओं सहभागिता का महत्व बताया. इस सत्र में केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री श्रीमती स्मृति ईरानी एवं वाणिज्य और उद्योग राज्यमंत्री डॉक्टर निर्मला सीथारमन ने भी अपने विचार रखे.

विश्व हिन्दू कांग्रेस के अंर्तगत होटल अशोक तथा होटल सम्राट में आयोजित सम्मेलनों में राश्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के परमपूज्य सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत जी, सरकार्यवाह श्री सुरेश (भय्याजी) जोशी, सहसरकार्यवाह डॉ. कृष्ण गोपाल जी, सहसरकार्यवाह श्री दत्ता जी होसबाले जी, विश्व हिन्दू परिषद् के डॉ. प्रवीण तोगडि़या, विहिप के श्री चंपत राय जी का सान्निध्य सभी को प्राप्त हुआ.

Periodicals