Importants Day

24-november

वीर योद्धा लाचित बोड़फुकन / जन्म दिवस – 24 नवम्बर, 1622

लाचित बोड़फुकन की वीरता के कारण मुग़ल नहीं कर पाए थे पूर्वोत्तर भारत पर कब्ज़ा असम के लोग तीन महान व्यक्तियों का बहुत सम्मान करते हैं। प्रथम, श्रीमंत शंकर देव, जो पन्द्रवीं शताब्दी में वैष्णव धर्म के महान प्रवर्त्तक थे। दूसरे, लाचित बरफुकन, जो असम के सबसे वीर सैनिक माने जाते हैं। और तीसरे, लोकप्रिय […]

24 November 2017
 
Jagdish Chandra basu

विज्ञान की अमर विभूति जगदीश चंद्र बसु / पुण्य तिथि – 23 नवम्बर

पेङ पौधौं से संबन्धित सवालों की जिज्ञासा बचपन से लिए, धार्मिक वातावरण में पले, जिज्ञासु जगदीश चंद्र बसु का जन्म 30 नवंबर, 1858 को बिक्रमपुर हुआ था, जो अब ढाका , बांग्लादेश का हिस्सा है । आपके पिता श्री भगवान सिंह बसु डिप्टी कलेक्टर थे। पेङ-पौधों के बारे में जब उनके सवालों का उत्तर बचपन में स्पष्ट […]

23 November 2017
 
172

वीरांगना झलकारी बाई / जन्म दिवस – 22 नवम्बर

भारत की स्वाधीनता के लिए 1857 में हुए संग्राम में पुरुषों के साथ महिलाओं ने भी कन्धे से कन्धा मिलाकर बराबर का सहयोग दिया था। कहीं-कहीं तो उनकी वीरता को देखकर अंग्रेज अधिकारी एवं पुलिसकर्मी आश्चर्यचकित रह जाते थे। ऐसी ही एक वीरांगना थी झलकारी बाई, जिसने अपने वीरोचित कार्यों से पुरुषों को भी पीछे […]

22 November 2017
 
21-november

वनांचल के ज्योतिपुंज गहिरा गुरु / पुण्य तिथि – 21 नवम्बर

मध्यप्रदेश के रायगढ़ और सरगुजा जिले में गोंड, कंवर, उरांव, कोरवा, नगेसिया, पंडो आदि वनवासी जातियां वर्षों से रहती हैं। ये स्वयं को घटोत्कच की संतान मानती हैं। मुगल आक्रमण के कारण उन्हें जंगलों में छिपना पड़ा। अतः वे मूल हिन्दू समाज से कट गये। गरीबी तथा अशिक्षा के चलते कई कुरीतियों और बुराइयों ने […]

21 November 2017
 
8

वैकल्पिक सरसंघचालक डॉ. लक्ष्मण वासुदेव परांजपे / जन्म दिवस – 20 नवम्बर

स्वाधीनता संग्राम के दौरान संघ के संस्थापक डा’ हेडगेवार ने 1930-31 में जंगल सत्याग्रह में भाग लिया था। उन दिनों संघ अपनी शिशु अवस्था में था।  शाखाओं की संख्या बहुत कम थी। डा’ जी नहीं चाहते थे कि उनके जेल जाने से संघ कार्य में कोई बाधा आये। अतः वे अपने मित्र तथा कर्मठ कार्यकर्ता […]

20 November 2017
 
Eknath Ji

विवेकानंद शिला स्मारक के शिल्पी एकनाथ रानडे / जन्म दिवस – 19 नवम्बर

एकनाथ रानडे का जन्म 19 नवम्बर, 1914 को ग्राम टिलटिला (जिला अमरावती, महाराष्ट्र) में हुआ था। पढ़ने के लिए वे अपने बड़े भाई के पास नागपुर आ गये। वहीं उनका सम्पर्क डा. हेडगेवार से हुआ। वे बचपन से ही बहुत प्रतिभावान एवं शरारती थे। कई बार शरारतों के कारण उन्हें शाखा से निकाला गया; पर […]

19 November 2017
 
18-November

परमवीर चक्र मेजर शैतान सिंह और उनके 114 साथियों का अप्रतिम बलिदान -18 नवंबर 1962

रेज़ांगला युद्ध की अनसुनी वीरगाथा 18 नवम्बर 1962 को चुशूल में मेजर शैतान सिंह और उनके 114 साथियों का अप्रतिम बलिदान इसका साक्षी है। उत्तर में भारत के प्रहरी हिमालय की पर्वत शृंखलाएं सैकड़ों से लेकर हजारों मीटर तक ऊंची हैं। मेजर शैतान सिंह के नेतृत्व में 13वीं कुमाऊं की ‘सी’ कम्पनी के 114 जवान […]

18 November 2017
 
1

अमर बलिदान का साक्षी मानगढ़ / 17 नवम्बर, 1913

मानगढ़ राजस्थान में बांसवाड़ा जिले की एक पहाड़ी है। यहां मध्यप्रदेश और गुजरात की सीमाएं भी लगती हैं। 17 नवम्बर, 1913 को यह पहाड़ी ऐसे अमर बलिदान की साक्षी बनी, जो विश्व के इतिहास में अनुपम है। यह सारा क्षेत्र वनवासी बहुल है। मुख्यतः यहां महाराणा प्रताप के सेनानी अर्थात भील जनजाति के हिन्दू रहते […]

17 November 2017
 
vande_mataram-normal

करतार सिंह सराबा एवं उनके 6 साथियों का बलिदान दिवस / 16 नवम्बर

अमर बलिदानी करतार सिंह सराबा को भगतसिंह अपना अग्रज, गुरु, साथी तथा प्रेरणास्रोत मानते थे। वे भगतसिंह से 11 वर्ष बड़े थे और उनसे 11 वर्ष पूर्व केवल 19 वर्ष की तरुणावस्था में ही भारतमाता के पावन चरणों में उन्होंने हंसते हुए अपना शीश अर्पित कर दिया। करतार सिंह का जन्म 1896 ई. में लुधियाना […]

16 November 2017
 
Biras 1

क्रांति दूत, जननायक बिरसा मुण्डा /जन्म दिवस -15 नवम्बर

स्वतंत्रता संग्राम के दौरान भारतभूमि पर ऐसे कई नायक पैदा हुए जिन्होंने इतिहास में अपना नाम स्वर्णाक्षरों से लिखवाया. एक छोटी सी आवाज को नारा बनने में देर नहीं लगती बस दम उस आवाज को उठाने वाले में होना चाहिए और इसकी जीती जागती मिसाल थे बिरसा मुंडा. बिरसा मुंडा ने बिहार और झारखंड के […]

15 November 2017