Importants Day

Kerriappa

भारतीय सेना के प्रथम कमांडर- इन – चीफ, फील्ड मार्शल के.एम. करिअप्पा / पूण्य तिथी – 15 मई

फील्ड मार्शल कोडंडेरा मडप्पा करिअप्पा भारतीय सेना के प्रथम कमांडर-इन-चीफ थे। के.एम. करिअप्पा ने सन् 1947 के भारत-पाक युद्ध में पश्चिमी सीमा पर सेना का नेतृत्व किया था। वे भारतीय सेना के उन दो अधिकारियों में शामिल हैं जिन्हें फील्ड मार्शल की पदवी दी गयी। फील्ड मार्शल सैम मानेकशा दूसरे ऐसे अधिकारी थे जिन्हें फील्ड […]

15 May 2018
 
2

सात्विक भाव से कार्यरत वनवासी कल्याण आश्रम को मेरी शुभकामनाएं – डॉ. हर्षवर्धन

वनवासी कल्याण आश्रम का वार्षिकोत्सव भारत के सांस्कृतिक जीवन के मंचन के साथ दिल्ली में संपन्न अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर जनजातीय समाज राष्ट्र के सजग प्रहरी के नाते भूमिका निभाता है – भगवान सहाय जी दिल्ली, 13 मई। देश के वनवासी क्षेत्रों के सांस्कृतिक जीवन की दिलचस्प झलकियां देश की राजधानी दिल्ली में देखने को मिलेंगी। […]

14 May 2018
 
14 may

अपराजेय, अप्रतिम वीर छत्रपति संभाजी महाराज / जन्म दिवस -14 मई 1657

हिन्दुस्थान में हिंदवी स्वराज एवं हिन्दू पातशाही की गौरवपूर्ण स्थापना करने वाले छत्रपति शिवाजी महाराज के जयेष्ठ पुत्र छत्रपति संभाजी महाराज का जन्म 14 मई 1657 को पुरंदर गढ पर हुआ. छत्रपति संभाजी के जीवन को यदि चार पंक्तियों में संजोया जाए तो यही कहा जाएगा कि: ‘देश धरम पर मिटने वाला, शेर शिवा का छावा था। महा पराक्रमी […]

14 May 2018
 
kalam4

पोखरण परमाणु परीक्षण / 11 मई से 13 मई, 1998

1998 में भारत ने पोखरण में 11 मई से 13 मई तक सफलतापूर्वक पांच परमाणु परीक्षण किए थे। इस सफलता के बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने ‘जय जवान, जय किसान’ और ‘जय विज्ञान’ का नारा दिया था। यह दिन हमारी प्रौद्योगिकी ताकत को दर्शाता है। इस दिन भारत अपनी उन्नत स्वदेशी प्रौद्योगिकी का परिचय […]

13 May 2018
 
12 may

बालकृष्ण चाफेकर / बलिदान दिन – 12 मई, 1899

देश की स्वाधीनता के लिए जिसने भी त्याग और बलिदान दिया, वह धन्य है; पर जिस घर के सब सदस्य फांसी चढ़ गये, वह परिवार सदा के लिए पूज्य है। चाफेकर  बंधुओं का परिवार ऐसा ही था। 1897 में पुणे में भयंकर प्लेग फैल गया। इस बीमारी को नष्ट करने के बहाने से वहां का प्लेग […]

12 May 2018
 
Awadh-Bihari

अमर बलिदानी अवधबिहारी / बलिदान दिवस – 11 मई, 1915

मातृभूमि की सेवा के लिए व्यक्ति की शिक्षा, आर्थिक स्थिति या अवस्था कोई अर्थ नहीं रखती। दिल्लीवासी क्रांतिवीर अवधबिहारी ने केवल 25 वर्ष की अल्पायु में ही अपना शीश मां भारती के चरणों में समर्पित कर दिया। अवधबिहारी का जन्म चांदनी चैक, दिल्ली के मोहल्ले कच्चा कटरा में 14 नवम्बर, 1889 को हुआ था। इनके […]

11 May 2018
 
10 May

जब क्रान्ति का बिगुल बज उठा (प्रथम स्वतंत्रता संग्राम) / 10 मई -1857

इतिहास इस बात का साक्षी है कि भारतवासियों ने एक दिन के लिए भी पराधीनता स्वीकार नहीं की। आक्रमणकारी चाहे जो हो; भारतीय वीरों ने संघर्ष की ज्योति को सदा प्रदीप्त रखा। कभी वे सफल हुए, तो कभी अहंकार, अनुशासनहीनता या जातीय दुरभिमान के कारण विफलता हाथ लगी। अंग्रेजों को भगाने का पहला संगठित प्रयास […]

10 May 2018
 
9 May

हिन्दी साहित्य के गौरवशाली नक्षत्र महावीर प्रसाद द्विवेदी / जन्म दिवस – 9 मई

हिन्दी साहित्य के गौरवशाली नक्षत्र महावीर प्रसाद द्विवेदी को अपने अनूठे लेखन शिल्प के कारण हिन्दी का प्रथम लोकमान्य आचार्य माना जाता है। इनका जन्म ग्राम दौलतपुर (रायबरेली, उ.प्र.) में 9 मई, 1864 को पंडित रामसहाय दुबे के घर में हुआ था। इनकी प्रारम्भिक शिक्षा गाँव में ही हुई, जबकि बाद में वे रायबरेली, रंजीतपुरवा […]

9 May 2018
 
8 May

चाफेकर बंधुओ में सबसे छोटे वासुदेव चाफेकर मातृभूमि की बलिवेदी पर चढ़ गये / 8 मई, 1899

देश की स्वाधीनता के लिए जिसने भी त्याग और बलिदान दिया, वह धन्य है; पर जिस घर के सब सदस्य फांसी चढ़ गये, वह परिवार सदा के लिए पूज्य है। चाफेकर  बंधुओं का परिवार ऐसा ही था। 1897 में पुणे में भयंकर प्लेग फैल गया। इस बीमारी को नष्ट करने के बहाने से वहां का प्लेग […]

8 May 2018
 
7 may

अल्लूरि सीताराम राजू / बलिदान दिवस – 7 मई

अल्लूरि सीताराम राजू आन्ध्र प्रदेश के पश्चिम गोदावरी जिले के मोगल्लु ग्राम में 4 जुलाई, 1897 को जन्मे थे। उनकी प्रारम्भिक शिक्षा राजमुंन्दरी व राजचन्द्रपुरम् में हुई। छात्र जीवन में ही उनका सम्पर्क निकट के वनवासियों से होने लगा था। उनका मन पढ़ाई में विशेष नहीं लगता था। कुछ समय के लिए उनका मन अध्यात्म […]

7 May 2018