Importants Day

शेर-ए-पंजाब महाराजा रणजीत सिंह / पूण्य तिथि – 27 जून 1839

महाराजा रणजीत सिंह  शेर-ए पंजाब के नाम से प्रसिद्ध हैं। महाराजा रणजीत एक ऐसी व्यक्ति थे, जिन्होंने न केवल पंजाब को एक सशक्त सूबे के रूप में एकजुट रखा, बल्कि अपने जीते-जी अंग्रेजों को अपने साम्राज्य के पास भी नहीं फटकने दिया। रणजीत सिंह का जन्म सन 1780 में गुजरांवाला (अब पाकिस्तान) में हुआ था। उन दिनों पंजाब पर सिखों और अफगानों का राज […]

27 June 2022
 

रक्‍त समूह (Blood group) के जनक कार्ल लैंडस्टीनर – पुण्य तिथि 26 जून 1943

कार्ल लैंडस्टीनर (karl landsteiner) जिन्‍हें को रक्‍त समूह का जनक माना जाता है 14 जून 1868 को कार्ल लैंडस्टीनर का जन्‍म वियना, ऑस्ट्रिया  में हुआ था उस समय में ऐसा माना जाता था कि मनुष्‍य में दो तरह का रक्‍त होता है एक अच्‍छा और एक बुरा लेकिन बाद में कार्ल लैंडस्टीनर ने यह प्रमाणित […]

26 June 2022
 

“आपातकाल” भारतीय लोकतंत्र का काला अध्याय – 25 जून 1975

25 जून, यानी वह दिन जब भारतीय इतिहास के सर्वाधिक विवादास्पद फैसले का ऐलान किया गया था। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाधी की सलाह पर राष्ट्रपति फखरुद्दीन अली अहमद ने 25 जून, 1975 अर्धरात्री में भारतीय संविधान की धारा 352 के तहत आपातकाल की घोषणा की थी। आजादी के बाद भारतीय इतिहास में इस फैसले को काफी विवादास्पद माना […]

25 June 2022
 

रानी दुर्गावती / बलिदान दिवस – 24 जून

रानी दुर्गावती कालिंजर के राजा कीर्तिसिंह चंदेल की एकमात्र संतान थीं। महोबा के राठ गांव में 1524 ई. की दुर्गाष्टमी पर जन्म के कारण उनका नाम दुर्गावती रखा गया। नाम के अनुरूप ही तेज, साहस और शौर्य के कारण इनकी प्रसिद्धि सब ओर फैल गयी। उनका विवाह गढ़ मंडला के प्रतापी राजा संग्राम शाह के […]

24 June 2022
 

डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी / बलिदान दिवस – 23 जून 1953

एक देश में दो प्रधान, दो विधान, दो निशान: नहीं चलेंगे – डॉ . श्यामाप्रसाद मुखर्जी छह जुलाई, 1901 को कोलकाता में श्री आशुतोष मुखर्जी एवं योगमाया देवी के घर में जन्मे डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी को दो कारणों से सदा याद किया जाता है। पहला तो यह कि वे योग्य पिता के योग्य पुत्र थे। श्री आशुतोष मुखर्जी कलकत्ता […]

23 June 2022
 

नगर सेठ अमरचन्द बांठिया / बलिदान दिवस – 22 जून

स्वाधीनता समर के अमर सेनानी सेठ अमरचन्द मूलतः बीकानेर (राजस्थान) के निवासी थे। वे अपने पिता श्री अबीर चन्द बाँठिया के साथ व्यापार के लिए ग्वालियर आकर बस गये थे। जैन मत के अनुयायी अमरचन्द जी ने अपने व्यापार में परिश्रम, ईमानदारी एवं सज्जनता के कारण इतनी प्रतिष्ठा पायी कि ग्वालियर राजघराने ने उन्हें नगर सेठ की […]

22 June 2022
 

प. पू. डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार / पूण्य तिथि – 21 जून, 1940

डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार जिन्होंने अपना समूचा जीवन हिंदू समाज व राष्ट्र के लिए समर्पित कर दिया था, आज उनकी जयंती है. शास्त्र के ज्ञाता केशव बलिराम हेडगेवार का जन्म 1 अप्रैल, 1889 ( गुडी पड़वा के दिन) को नागपुर, महाराष्ट्र में हुआ था. डॉ. हेडगेवार को प्रारंभिक शिक्षा उनके बड़े भाई द्वारा प्रदान की […]

21 June 2022
 

सिंधुपति राजा दाहिरसेन – बलिदान-दिवस / 20 जून, 712

भारत को लूटने और इस पर कब्जा करने के लिए पश्चिम के रेगिस्तानों से आने वाले मजहबी हमलावरों का वार सबसे पहले सिन्ध की वीरभूमि को ही झेलना पड़ता था। इसी सिन्ध के राजा थे दाहरसेन, जिन्होंने युद्धभूमि में लड़ते हुए प्राणाहुति दी। उनके बाद उनकी पत्नी, बहिन और दोनों पुत्रियों ने भी अपना बलिदान देकर भारत […]

20 June 2022
 

संघ विचार के महान भाष्यकार डॉ. श्रीपति शास्त्री / जन्म दिवस -19 जून

संघ के वरिष्ठ कार्यकर्ता, इतिहास के प्राध्यापक तथा राजनीति, समाजशास्त्र, साहित्य आदि विषयों के गहन अध्येता श्रीपति सुब्रमण्यम शास्त्री का जन्म 19 जून, 1935 को कर्नाटक राज्य के चित्रदुर्ग जिले के हरिहर ग्राम में हुआ था। बालपन में ही वे स्वयंसेवक बने तथा अपने संकल्प के अनुसार अविवाहित रहकर अंतिम सांस तक संघ कार्य करते रहे। 1956 में वे मैसूर नगर कार्यवाह […]

19 June 2022
 

खूब लड़ी मर्दानी वह तो…. रानी लक्ष्मीबाई / बलिदान दिवस – 18 जून, 1858

भारत में अंग्रेजी सत्ता के आने के साथ ही गाँव-गाँव में उनके विरुद्ध विद्रोह होने लगा; पर व्यक्तिगत या बहुत छोटे स्तर पर होने के कारण इन संघर्षों को सफलता नहीं मिली। अंग्रेजों के विरुद्ध पहला संगठित संग्राम 1857 में हुआ। इसमें जिन वीरों ने अपने साहस से अंग्रेजी सेनानायकों के दाँत खट्टे किये, उनमें झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई […]

18 June 2022